X Close
X
9953617860

आरटीई दाखिलों से भाग रहे स्कूल


Noida:

नोएडा। जिले में शिक्षा का अधिकार कानून (आरटीई) के तहत चयन किए गए कमजोर आय वर्ग के बच्चों के दाखिले में स्कूल पीछे हट रहे है। इससे शिक्षा के अधिकारों का सीधे हनन हो रहा है।
खास बात यह है कि स्कूल मालिक अपनी ऊंची पहुंच के चलते कानून को ठेंगा दिखाने में कोई कसर नहीं छोड़ते।
आरटीई के तहत यह प्रक्रिया 2 मार्च 2020 से शुरू होकर 14 अगस्त को खत्म हुई। लेकिन इसके बावजूद कुछ स्कूलों में दाखिले अभी तक नहीं हुए। कुछ स्कूलों ने बेसिक शिक्षा विभाग के गलत सीट आवंटन का हवाला देते हुए दाखिले लेने से इंकार कर दिया।
युवा क्रान्ति सेना बहादुर यादव के नेतृत्व में बच्चों के अभिभावकों के साथ सेक्टर-122 नोएडा स्थित राघव ग्लोबल स्कूल पर दाखिला कराने पहुंची, जहां स्कूल के द्वारा कुछ दाखिले लेने का आश्वासन दिया और कुछ को गलत आवंटन बता कर रद्द कर दिया।
सेना के संस्थापक अविनाश सिंह ने बताया कि गलती किसी की भी हो लेकिन उसका खामियाजा अभिभावकों और बच्चों को उठाना पड़ रहा है। यह बच्चों के साथ अन्याय हो रहा है। आवंटन सही तरीके से होने चाहिए थे।आर टी ई के तहत दाखिले बंद करवा देने चाहिए जब गरीब लोगो को परेशान होना पड़ता है और दाखिले तब भी नहीं होते। अमित अवाना ने कहा कि हमारी लड़ाई स्कूल से नहीं है, हम बच्चों के अधिकार के लिए लड़ रहे हैं। इस मौके पर मोहित पधान, अमर भारद्वाज, गोपाल कुमार, नितेश, सहदेव जाट, अवधेश चौधरी आदि मौजूद थे।

The post आरटीई दाखिलों से भाग रहे स्कूल appeared first on Jai Hind Janab.